Blog

अखिल भारतीय आंजणा युवा सम्मेलन की समीक्षा बैठक आयोजित|

अखिल भारतीय आंजणा युवा सम्मेलन की समीक्षा बैठक आयोजित जालोर जिले के जसवंतपुरा उपखंड मुख्यालय पर श्री राजारामजी महाराज छात्रावास में कल अखिल भारतीय आंजणा युवा महा सम्मेलन को लेकर बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें 3-4 दिसंबर को छात्रावास में ऑजणा युवा महासम्मेलन का आयोजित करने को लेकर तैयारियां की समीक्षा की गई। प्रवक्ता पुरेश चौधरी ने बताया कि पूरे भारत भर के ऑजणा युवाओं का महा सम्मेलन प्रथम बार आयोजित किया जा रहा हैं। जिसमे समाज के प्रति एकता, शिक्षा से युवाओं को देश भक्ति की भावना समाज के व्याप्त कुरीतियों को जड़ से मिटाने का संकल्प बालिका शिक्षा पर जोर देने को लेकर भारत भर के हजारों युवा भाग

Blog Category: 

| `अखिल भारतीय आँजणा युवा महासम्मेलन` |

| `अखिल भारतीय आँजणा युवा महासम्मेलन` |

प्यारे युवा भाईयोँ व बहनोँ,
आपको सूचित करते हुए
अत्यंत हर्ष हो रहा है कि आँजणा समाज के युवा बन्धुओँ का आगामी दिसम्बर माह मेँ पहली बार 2 दिवसीय `अखिल भारतीय आँजणा युवा महासम्मेलन` का आयोजन किया जा रहा हैँ। जिसमेँ देश के कोने-कोने से समाज के युवा, समाजसेवी, शिक्षाविद, राजनीतिज्ञ, राष्ट्रभक्त एवं खेल प्रतिभाएँ सहित समाज के सभी युवा बंधु भाग लेँगे|

Blog Category: 

| `भावभरा निमन्त्रण` | #AanjanaSamajLive

 | `भावभरा निमन्त्रण` |
आप सभी सादर आमंत्रित है|

श्री श्री 1008 श्री मालारामजी महाराज जन्म जयंती एवं समाधि महोत्सव | बिँजा (पाली)

॥ जन्म:- मार्गशीर्ष सुद 6 सम्वत् 1970 ,
समाधी:-मार्गशीर्ष सुद 6 सम्वत् 2052 ॥

...दो पंक्ति गुरुवर के नाम...
"बीँजा गांव हद सोवणो मरुधर देश महान् पटेलो घरे पधारे आप लिये अवतार गाजा बाजे गोरीया गवे मंगला गीत हर्ष घणो ते जो करे लाड लडावे माता हतु माई !

| `मुख्य तीर्थ स्थल धाम` |
श्री मालेश्वर धाम बीँजा (पाली) राजस्थान

| `कार्यक्रम विवरण` |

Blog Category: 

आँजणा युवा महासम्मलेन | #AanjanaSamajLive

अखिल भारतीय आँजणा समाज "युवा महासम्मलेन" का सीधा लाइव प्रसारण #CapsTeam के ऑफिशियल फेसबुक पेज पर दिखाया जायेगा।
आप इस लिँक से जुड़िए - fb.com/capsgroupapp एवं लाइव अपडेट्स के लिए #CapsTeam के Twitter अंकाउट को फॉलो करेँ - www.twitter.com/capsgroupapp

#CapsLive | #ABAYMS2016

Blog Category: 

पूज्य संत श्री सुजारामजी महाराज की 5वीँ पुण्यतिथि

आज परम पूज्य अन्न त्यागी संत श्री सुजारामजी महाराज की 05वीँ पुण्यतिथि पर 'आँजणा समाज' के असंख्य भक्तोँ द्वारा संतश्री को श्रदांजलि अर्पिक की गई।

आँजणा समाज के लाखोँ युवाओँ के प्रेरणास्रोत
परम पूज्य ब्रह्मलीन संत श्री सुजारामजी महाराज को उनकी पुण्यतिथि पर कोटि
कोटि नमन। #AanjanaSamajLive

सरसों की वैज्ञानिक खेती

तापमान , किसान , सरसो , खेतीबाड़ी , सर्दी , मात्रा , उपजाऊ , जमीन

सरसों एवं राई की गिनती भारत की प्रमुख तीन तिलहनी फसलों (सोयाबीन, मूंगफली एवं सरसो) में होती है जो देष में आई , पीली क्रान्ति के लिए मुख्य रूप से जिम्मेदार है। इसके कारण भारत के द्वारा तेलों के आयात में न केवल आषातीत कटोती हुई बल्कि निर्यात की संभावनाए भी बढी है। राजस्थान में प्रमुख रूप से भरतपुर सवाई माधोपुर, अलवर करौली, कोटा, जयपुर आदि जिलो में सरसों की खेती की जाती है। सरसों में कम लागत लगाकर अधिक आय प्राप्त की जा सकती है। इसके हरे पौधों का प्रयोग जानवरों के हरे चारे के रूप में लिया जा सकता है।

बधाई संदेश

मैदान में रानी लक्ष्मी बाई हों या चाँद पर कल्पना चावला हो, हमेशा से ही देश की बेटियाँ, देश का नाम रोशन करती आईं हैं।

आँजणा समाज की बेटी बहिन चंद्रा पटेल को अनेकानेक शुभकामनाएँ मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि, आप इसी तरह अपने समाज का नाम रोशन करती रहें।-आँजणा समाज www.aanjanasamaj.org

Blog Category: 

निर्जला एकादशी व्रत

#निर्जलाएकादशीव्रत
हिंदू धर्म में एकादशी के व्रत को महत्वपूर्ण माना गया है । प्रत्येक वर्ष चौबीस एकादशी तिथियां होती हैं। जब मलमास आता है तब इनकी संख्या बढ़कर 26 हो जाती है। ज्येष्ठ मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी को निर्जला एकादशी कहते हैं। इस व्रत में पानी पीना वर्जित है इसलिये इसे निर्जला एकादशी कहा जाता हैं। व्रतों में निर्जला एकादशी का व्रत सबसे ज्यादा कठिन माना जाता है। इस दिन बिना अन्न-जल ग्रहण किए व्रत करने का विधान है।
#पौराणिकमान्यता

Blog Category: 

सोमवार और अक्षय तृतीया का मेल, महापुण्यों के साथ देगा सांसारिक वस्तुओं का वरदान

अक्षय तृतीया , शुभ , मूहर्त , विवाह

वैशाख माह में भगवान विष्णु व परमेश्वर शिव के पूजन का विशेष महत्व है परंतु वैशाख माह के शुल्क पक्ष की तृतीया तिथि अर्थात अक्षय तृतीया को किया गया शिव परिवार पूजन अक्षय फल प्रदान करता ह। अक्षय तृतीया को युगादि तिथि भी कहा जाता है। सुख, शांति, सौभाग्य तथा समृद्धि हेतु इस दिन शिव-पार्वती व नर-नारायण के पूजन का विधान है। इस दिन श्रद्धा-विश्वास के साथ व्रत रख जो प्राणी पवित्र नदियों और तीर्थो में स्नान कर अपनी शक्तिनुसार देवस्थल व घर में ब्राह्मणों द्धारा यज्ञ, होम, देव-पितृ तर्पण, जप, दानादि शुभ कर्म करते हैं उन्हें उन्नत व अक्षय फल की प्राप्ति होती है। जो व्यक्ति अक्षय तृतीया पर शिव पूजन कर पूज

समाज को शिक्षित करना ही पूज्य संत श्री दयारामजी का सपना(ध्यये) । समाज को शिक्षित करना ही पूज्य संत श्री दयारामजी का सपना(ध्यये) ।

समाज को शिक्षित करना ही पूज्य संत श्री दयारामजी का सपना(ध्यये) ।
जीवन के संकीर्ण दायरे से बाहर निकलकर जन जन के सर्वांगीण विकास के लिए समर्पित रहने वाले इस संसार में बिरले ही होते हैं। ऐसे ही एक संत है जोधपुर जिले के शिकारपुरा स्थित श्री राजारामजी आश्रम के वर्तमान गादीपति श्री दयारामजी महाराज।
आम जन के विकास के लिए समर्पित महाराजश्री का कहना है कि "मानव जीवन मिला है,उसे व्यर्थ गंवाने की बजाय लोगों को सच्चे मार्ग पर लाकर उनका जीवन सुधारने का प्रयत्न करना चाहिए"।

Pages